Wednesday, October 3, 2012

Gatepass of CSIR College


सीएसआइआर कॉलेज का गेटपास

सीएसआइआर कॉलेज का गेटपाससमान योग्यता होने के बावजूद लोगों की रुचि में काफी अंतर होता है। कोई इंजीनियर, डॉक्टर तो कोई आईएएस या टीचर बनना चाहता है। अगर आप भी पढने और पढाने के शौकीन हैं, तो बाहरी आपाधापी से दूर सम्मानजनक कॅरियर की तलाश में हैं, तो आपके लिए कॉलेज में लेक्चरर का पद सबसे बेहतर कॅरियर विकल्प हो सकता है। हाल ही में लेक्चररशिप पद की पात्रता प्राप्त करने के लिए सीएसआईआर यानी कि काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च ने साइंस स्ट्रीम के स्टूडेंटस के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 19 सितंबर है, परीक्षा की तिथि 23 दिसंबर, 2012 है।
स्कॉलरशिप है आकर्षण
इस परीक्षा की सबसे बडी खासियत यह है कि इसमें सबसे अधिक मा‌र्क्स लानेवाले स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप की सुविधा मिलती है। अगर आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है, तो स्कॉलरशिप के माध्यम से आप अपनी पढाई आसानी से कर सकते हैं। सीएसआईआर में जो साइंस के स्टूडेंट्स इस परीक्षा में सबसे अधिक अंक लाते हैं, उनकी मेरिट लिस्ट बनाई जाती है और इनमें से कुछ को जूनियर रिसर्च फेलोशिप यानी जेआरएफ और शेष को नेट यानी नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट के लिए चुना जाता है। जेआरएफ में चुने गए स्टूडेंट्स को रिसर्च के लिए स्कॉलरशिप दी जाती है, जबकि नेट क्वालीफाई को स्कॉलरशिप नहीं दी जाती है। इस परीक्षा को उत्तीर्ण करनेवाले स्टूडेंटस ही लेक्चरर या रीडर पद के योग्य होते हैं।
पीजी है न्यूनतम योग्यता
सामान्य अभ्यर्थियों के लिए संबंधित विषय में कम से कम 55 प्रतिशत अंकों के साथ किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से साइंस विषयों में स्नातकोत्तर अनिवार्य है। एससी, एसटी तथा समाज के विकलांग व्यक्तियों के लिए 50 प्रतिशत अंकों से स्नातकोत्तर होना जरूरी है। लेक्चरर पद की पात्रता प्राप्त करने की चाह रखने वाले अभ्यर्थियों के लिए उम्र सीमा का कोई बंधन नहीं है, वहीं जेआरएफ के लिए उम्र सीमा सामान्य उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम 19 और अधिकतम 28 वर्ष है, जबकि एससी, एसटी तथा विकलांग व्यक्तियों को अधिकतम उम्र सीमा में पांच वर्ष की छूट का प्रावधान है।
तीन पा‌र्ट्स में होगी परीक्षा
सीएसआईआर परीक्षा में प्रश्नपत्र के तीन पार्ट होंगे। पार्ट ए में जनरल साइंस, क्वांटिटेटिव रीजनिंग एंड एनालिसिस और रिसर्च एप्टीट्यूड से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे। पार्ट बी में सब्जेक्ट रिलेटेड ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्न पूछे जाएंगे। पार्ट सी में कैंडिडेट से साइंटिफिक नेचर और कांसेप्ट से संबंधित प्रश्न रहेंगे। तीनों पार्ट की परीक्षा ऑब्जेक्टिव टाइप की होगी।
प्रश्नों का करें अभ्यास
इस परीक्षा में आप तभी सफल हो सकते हैं, जब आप स्पीड और एक्यूरेसी का ध्यान रखेंगे। ऑब्जेक्टिव परीक्षा में इसका काफी महत्व होता है। आपके लिए बेहतर होगा कि निर्धारित समय सीमा के अंदर प्रश्नों को एक्यूरेसी के साथ हल करने का अभ्यास करें। यदि आप इसका अभ्यास करते हैं, तो समय रहते कमजोरी का पता चल जाएगा, जिसे आप आसानी से दूर कर सकते हैं। इस परीक्षा में बेहतर अंक तभी ला सकते हैं, जब आपका साइंस विषय पर पकड होगा। इस कारण सबसे पहले आप साइंस से रिलेटेड प्रश्नों को खूब हल करें। बाजार में इससे संबंधित काफी पुस्तक उपलब्ध होती हैं। साइंस से संबंधित करेंट रिसर्च पर भी गहरी निगाह रखें। इस परीक्षा की तैयारी कुछ दिनों में संभव नहीं है। इसकी पूरी तैयारी आप तभी कर पाएंगे, जब आप प्लानिंग करेंगे।
पीजी लेवल का सिलेबस
प्रश्नों का स्तर स्नातकोत्तर स्तर का होता है। इस कारण उसके सिलेबस और विषय की समझ पहले विकसित करें। बेहतर स्ट्रेटेजी यह होगा कि आप प्रामाणिक पुस्तकों का अध्ययन करें। उसके बाद संक्षिप्त नोट्स बनाएं और उसी को बार-बार पढें। इस तरह की रणनीति अपनाने से फायदा यह होगा कि आप कम समय में बेहतर तैयारी कर पाएंगे और परीक्षा के समय बेहतर प्रदर्शन करेंगे। बाजार में इसके लिए नोट्स भी मिलते हैं। यदि आप चाहें, तो इसकी भी सहायता ले सकते हैं। तैयारी के लिए महत्वपूर्ण अध्याय को एक जगह नोट भी कर सकते हैं। इस लिस्ट में उन्हीं को शामिल करें, जिससे हर वर्ष सर्वाधिक प्रश्न पूछे जा रहे हैं। इसमें लगभग कुछ प्रश्न जनरल साइंस, मैथ्स, अर्थ साइंसेज एंड कंप्यूटर से संबंधित होते हैं। इसकी तैयारी के लिए एनसीईआरटी की ग्यारहवीं और बारहवीं की साइंस पुस्तकों का गहन अध्ययन करें। निगेटिव मार्किग का प्रावधान है। इस कारण इस पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। आप कम्प्यूटर से प्रश्नों को डाउनलोड भी कर सकते हैं।
सीएसआईआर-यूजीसी परीक्षा 2012
ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि : 19 सितंबर, 2012
परीक्षा तिथि : 23 दिसंबर, 2012

No comments:

Post a Comment